Monday, April 12, 2010

महात्मा गाँधी का चंगेस खान कनेक्शन

एक बार हम से बोले हमारे परम मित्र पंडित प्यारे लाल..
कम्पुटर का बटन दबाओ, जो चाहते हो सब पाओ...
हमने आव न देखा ताव, कम्पुटर का बटन दबाया और पूछा भाया
महात्मा गाँधी के बारे में क्या जानते हो ?
कम्पुटर बोला वे बड़े खूंखार थे, नाश्ते में ३० अंडे और ५ मुर्गिया खाते थे
तलवारबजी के उस्ताद थे, पूरी दुनिया पर अपनी हुकूमत चलाते थे,
हम बोले भैया गजब मत ढहाओ, महात्मा गाँधी के नाम पर कलंक मत लगाओ
तो कंप्यूटर बोला भैया आप भी महात्मा गाँधी की जगह चंगेस खान का बटन मत दबाओ.

3 comments:

Abhishek said...

hmmm ... very old poem... remembered childhood ... when did we first read this one ??? do you recall

Anurag Geete said...

oh.. its long back... I only recall that we read it in some magazine, those were the initial era of computer and just thought to share with everyone..

अक्षिता (पाखी) said...

ही..ही..ही..majedar.

________________
'पाखी की दुनिया' में इस बार माउन्ट हैरियट की सैर करना न भूलें !!